गला घोंटकर फांसी: व्यापारी की पत्नी ने बेटियों को लटकाया फांसी पर, बड़ी बेटी की मौत छोटी बेटी की हालत गंभीर

गला घोंटकर फांसी – उज्जैन में एक किराना व्यापारी की पत्नी ने दो बेटियों का गला घोंटकर फांसी लगा दी। पत्नी और बड़ी बेटी की मौत हो गई, जबकि ढाई साल की बेटी की हालत गंभीर बनी हुई है. उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना बुधवार रात 9.30 बजे की है।

किराना व्यापारी सुनील परमार का घर तराना के नाचन बोर चौराहे पर है। सुनील घर के सामने अपनी किराने की दुकान पर था। जब वह अपना सामान समेट कर घर आया और पत्नी की तलाश में पहली मंजिल पर पहुंचा तो उसके होश उड़ गए। पत्नी गायत्री (28) पंखे से लटकी हुई थी। दोनों बेटियां हंसिका (6) और ढाई साल की प्रियांशी लेटी हुई थीं।

सुनील की सूचना पर पुलिस और एंबुलेंस मौके पर पहुंची और तीनों को तराना अस्पताल ले गई. यहां डॉक्टर ने पत्नी और बड़ी बेटी को मृत घोषित कर दिया। ढाई साल की बच्ची को उज्जैन जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस के मुताबिक शुरुआती जांच में पता चल रहा है कि गायत्री बीमार है। उसका मोबाइल भी जब्त कर लिया गया है।

गायत्री के पिता बोले, बेटी ने कभी शिकायत नहीं की…
पुलिस को शक है कि गायत्री ने पहले हंसिका की गला दबाकर हत्या की है। इसके बाद प्रियांशी की गला घोंटकर हत्या कर दी गई। प्रियांशी को मरा समझकर उसने फांसी लगा ली। लालाखेड़ी निवासी गायत्री के पिता प्रभु लाल मालवीय ने बताया कि बेटी ने कभी यह शिकायत नहीं की कि उसे परिवार में कोई दुख है। हमेशा घर की प्रशंसा की। सुनील परमार घर से सक्षम हैं। गायत्री ने बीए किया और 1 साल पहले ही डी.एड पूरा किया।

talksdewas@gmail.com

Leave a Comment