घर आ रहे हैं बप्पा: बप्पा के लिए बनाएं गणपति मंदिर,लगत मात्रा 50 – 60 रपये,समझें सजाने के टिप्स और ट्रिक्स

घर आ रहे हैं बप्पा – बप्पा कल आने वाले हैं। आपने उनके स्वागत की पूरी तैयारी कर ली होगी। जो लोग डेकोरेशन करना नहीं समझते हैं उनके लिए आज हम कुछ टिप्स और ट्रिक्स बताएंगे।
गणपति की स्थापना से पहले कैसे सजाएं मंदिर की पृष्ठभूमि

फूलों से…

गेंदे का फूल शुभ माना जाता है, जो घर में सकारात्मकता लाता है। इससे सजाएं।
यदि गेंदे के फूल अधिक मात्रा में नहीं हैं तो इसे गुलाब या अन्य फूलों के साथ मिलाकर सजाएं।
आप थीम के साथ फूलों का उपयोग कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, फूलों को गोल आकार, मंदिर के आकार या त्रिकोण आकार में लगाएं।
अगर आपके पास ताजे फूल नहीं हैं…

जिन लोगों को क्राफ्टिंग का शौक होता है, उनके पास ओरिगेमी पेपर जरूर होते हैं, वे इन पेपर्स की मदद से आर्टिफिशियल फूल बना सकते हैं।
अगर ओरिगेमी पेपर्स की मदद से क्राफ्टिंग नहीं आती है, तो…

आप मनका को क्राफ्टिंग स्टोर पर आसानी से पा सकते हैं या यह ज्यादातर लोगों के घरों में पहले से ही उपलब्ध हो सकता है।
धागे की सहायता से इसे एक माला की तरह बना लें और बैकग्राउंड से सामने की ओर लटका दें। ये बहुत ही अच्छा लुक देगा।
अगर मनका खरीदने की कीमत ज्यादा लगती है, तो…

साड़ी या रंगीन दुपट्टे की मदद से बैकग्राउंड को अच्छे से कवर कर लें।
इसके ऊपर झालर या फेरी लाइट लगाएं। इससे बैकग्राउंड में रोशनी अच्छी होगी और मंदिर जगमगाएगा।

पूरे मंदिर को तैयार करने में करीब 50-60 रुपये का खर्च आएगा।

प्रवेश द्वार, पूजा कक्ष, भूमि, मंदिर और मंदिर की पृष्ठभूमि तैयार होने के बाद, आप अंत में गणपति बप्पा की स्थापना करेंगे। अब करें गणपति के सामने सजावट-

अगर रंगोली बनती है तो उसके चारों ओर दीया या मोमबत्ती जलाएं।
अगर आपने रंगोली नहीं बनाई है तो सामने वाले हिस्से को फूलों से सजाएं.
गमले में लगे पौधे अपने आसपास रखें, इससे सकारात्मकता आती है।
खर्च

गुब्बारा – अगर घर में नहीं है तो दुकान में 60 रुपये के पैकेट में मिलेगा.
ओरिगेमी पेपर्स- कम से कम 100-150 रुपये डेकोरेशन के लिए आएंगे।
कार्डबोर्ड न हो तो राशन की दुकान में आसानी से मिल जाता है। कुछ दुकानदार इसे पूजा के नाम पर मुफ्त में देते हैं तो कुछ थोड़े से पैसे में।
जाते जाते

गणेश चतुर्थी से पहले घर के ड्राइंग रूम को थोड़ा सा सजाएं, इससे उत्सव जैसा अहसास होगा। बप्पा को देखने आए मेहमान भी महसूस करेंगे सकारात्मक-

दरवाजे के दोनों किनारों को फूलों से सजाएं।
फूलों को कांच के कटोरे में सेंटर टेबल पर रखें।
जो कुछ भी है, उसकी सेटिंग को थोड़ा बदल लें।
ड्राइंग रूम के इंटीरियर को ऐसा बनाएं कि घूमने के लिए जगह हो।

talksdewas@gmail.com

Leave a Comment