मर्डर – आखरी कॉल पत्नी के नाम,बैंक कलेक्शन एजेंट की हत्या,बारे में बंद शव

मर्डर – आखरी कॉल पत्नी के नाम,बैंक कलेक्शन एजेंट की हत्या,बारे में बंद शव

इंदौर में एक बैंक के कलेक्शन एजेंट की हत्या कर दी गई। उसकी बोरे में बंद लाश राऊ के नाले में मिली। इस घटना से इलाके में सनसनी फैल गई। बैंक कलेक्शन एजेंट पिछले कुछ दिनों से घर से लापता था। परिवार ने उसकी गुमशुदगी भी थाने में दर्ज कराई थी। इधर, पुलिस ने बैंक कलेक्शन एजेंट की हत्या के मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। एक लाख रुपए लूटने के लिए हत्या की बात सामने आई है। पुलिस दोनों से पूछताछ कर रही है। एडिशनल डीसीपी जयवीर सिंह भदौरिया के मुताबिक 25 साल के हुकुम सिंह पुत्र हजारीलाल वर्मा निवासी दुर्गा नगर का शव रामरहीम कॉलोनी के नाले में बोरे में बंद मिला। पिछले कुछ दिनों से वह लापता था। जिसकी गुमशुदगी भी परिवार ने थाने में दर्ज कराई थी। हुकुम बंधन बैंक में कलेक्शन एजेंट था। इस मामले में असलम और नंदू उर्फ नंदकिशोर को गिरफ्तार किया गया है। दोनों बैंक में तो कर्मचारी नहीं थे, लेकिन हुकुम सिंह को कलेक्शन में मदद करते थे।

आखरी बार पत्नी को किया था फोन
16 अगस्त को आखिरी बार हुकुम ने असलम के घर से पत्नी को फोन लगाकर कहा था कि वह यहां से चाय पीकर घर आ रहा है, लेकिन घर पहुंचा ही नहीं। अगले दिन राजेंद्र नगर में गुमशुदगी दर्ज करवाई। परिजन का आरोप है कि पुलिस ने कोई सहयोग नहीं किया। वहीं घटना के बाद परिवार में काफी रोष है। इधर, मामले में पुलिस दोनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है। हत्या की खबर मिलने के बाद शुक्रवार रात बजरंग दल ने थाने का घेराव भी किया था।

घटना से नाराज हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार रात को राजेंद्र नगर थाने पर विरोध जताया। तनु शर्मा, रामजी ने आरोप लगाया था कि आरोपी असलम और उसके साथी जफर का नाम बताया था। लोकेशन भी दोनों की एक जगह की मिली थी। बार बार बताने के बाद भी जांच नहीं की। पुलिस काल डिटेल में मिले नंबर के आधार पर एक महिला पर आशंका जता चुकी है।

talksdewas@gmail.com

Leave a Comment