काले टमाटर की खेती किसानो को बनायेगी मालामाल, जाने खेती करने का आसान तरीका

By talksdewas@gmail.com

Published on:

Follow Us
काले टमाटर की खेती किसानो को बनायेगी मालामाल, जाने खेती करने का आसान तरीका

काले टमाटर की खेती किसानो को बनायेगी मालामाल, जाने खेती करने का आसान तरीका। हर भारतीय रसोई में एक चीज तो पक्का होती है और वो है टमाटर. चाहे कोई भी सब्जी बनाई जाए, लाल टमाटर उसका अहम हिस्सा होता है. फिर चाहे चटनी हो, चोखा हो या सूप, हर जगह टमाटर का इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन अब इस लाल टमाटर के साथ हमारे किचन में एक नया मेहमान आ चुका है – काला टमाटर! काला टमाटर न सिर्फ दिखने में खास है, बल्कि ये पोषक तत्वों से भी भरपूर होता है. यही कारण है कि भारत समेत पूरी दुनिया में इसकी डिमांड तेजी से बढ़ रही है. तो सवाल ये है कि आखिर भारतीय किसान अपने खेतों से अच्छी कमाई कैसे कर सकते हैं? आइए जानते हैं इसकी खेती के बारे में.

काले टमाटर में छिपे अनगिनत फायदे

आपको जानकर हैरानी होगी कि काले टमाटर में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं. इसकी खास बात ये है कि ये सिर्फ 90 से 120 दिनों में ही तैयार हो जाता है. इतना ही नहीं, ये टमाटर पकने से पहले भी काला होता है और पक जाने के बाद भी अपना रंग बनाए रखता है. हालांकि ये काला जरूर दिखता है, लेकिन अंदर से लाल ही होता है. इसके बीज भी लाल टमाटर की तरह ही होते हैं. साधारण टमाटर के मुकाबले काला टमाटर ज्यादा समय तक ताजा रहता है. साथ ही इसके काले रंग और ढेर सारे पोषक तत्वों के कारण इसकी मार्केट वैल्यू भी लाल टमाटर से ज्यादा होती है. औषधीय गुणों के मामले में भी ये लाल टमाटर से आगे निकल जाता है.

यह भी पढ़े- धनिया की उन्नत किस्मे किसानो को कमा के देगी मोटा पैसा, कम समय में बना देगी मालामाल देखे पूरी जानकरी

कैसे करें काले टमाटर की खेती?

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि काली टमाटर की खेती के लिए गर्म जलवायु सबसे ज्यादा उपयुक्त मानी जाती है. इसकी खेती के लिए मिट्टी का पीएच लेवल 6 से 7 के बीच होना चाहिए. भारत के उत्तरी क्षेत्रों में कई जगहों पर आसानी से इसकी खेती की जा सकती है. बताया जाता है कि इस टमाटर में आम टमाटर के मुकाबले ज्यादा विटामिन सी पाया जाता है और इसके सेवन से कई बीमारियों से भी राहत मिलती है. किसानों के लिए सबसे अच्छी खबर ये है कि काले टमाटर की मार्केट रेट लाल टमाटर से काफी ज्यादा है और इन दिनों इसकी डिमांड भी तेजी से बढ़ रही है.अच्छी बात ये है कि काले टमाटर की खेती लाल टमाटर की तरह ही की जाती है. बस थोड़े बहुत बदलाव की जरूरत पड़ती है.

यह भी पढ़े- Creta का गेम ओवर कर देगी Maruti की चार्मिंग लुक SUV, फर्राटेदार इंजन के साथ फीचर्स भी लल्लनटॉप

काले टमाटर की खेती से मोटा मुनाफा

अगर मुनाफे की बात करें तो टमाटर की खेती में सिर्फ बीज का खर्च आता है. बाकी सभी खर्च निकालने के बाद भी एक एकड़ में किसान 4-5 लाख रुपये तक की कमाई कर सकता है. वहीं अगर पैकिंग और ब्रांडिंग पर ध्यान दिया जाए तो मुनाफा और भी बढ़ जाता है. ज्यादा कमाई के लिए आप इन्हें बड़े शहरों में बेचने के लिए भेज सकते हैं. इससे आपकी आमदनी काफी अच्छी हो जाएगी.

Leave a Comment