Pig Farming : सूअर पालन में लाखो कमाने का सुनहरा मौका सरकार भी दे रही 95% सब्सिडी देखे पूरी डिटेल

0
टॉक्स 13

Pig Farming : सूअर पालन में लाखो कमाने का सुनहरा मौका सरकार भी दे रही 95% सब्सिडी देखे पूरी डिटेल क्या आप जानते हैं कि सुअर पालन का धंधा कम लागत में ज्यादा मुनाफा कमाने का एक बेहतरीन तरीका है? जी हां, आपने सही पढ़ा! जहां दूसरे पशुओं को पालने में ज्यादा खर्च और मेहनत लगती है, वहीं सुअर पालन में कम पैसा और कम मेहनत में दोगुना मुनाफा कमाया जा सकता है. इसको सरकार भी बढ़ावा दे रही है और ग्रामीण युवाओं के लिए स्वरोजगार का एक अच्छा जरिया माना जाता है.

यह भी पढ़िए-iphone का भर्ता बना देगा Redmi का ये कंटाप स्मार्टफोन, 200MP कैमरा और फीचर्स भी होंगे टनाटन

सुअर पालन का बिजनेस क्या है?

सुअर पालन का धंधा एक ऐसा लाभदायक व्यापार है जिसमें कम लागत में ज्यादा कमाई की जा सकती है. इसकी तुलना में अन्य पशु पालन के धंधों में ज्यादा खर्चा और मेहनत लगती है. सुअर पालन में कम पैसा और श्रम लगाकर दुगना मुनाफा कमाया जा सकता है. गौर करने वाली बात ये है कि सुअर ऐसे जानवर हैं जिनमें पैदा करने की क्षमता बहुत ज्यादा होती है. एक मादा सुअर एक बार में 5 से 14 बच्चों को जन्म दे सकती है. इससे मोटा फायदा होता है क्योंकि बाजार में सुअर के मांस की डिमांड काफी ज्यादा है और उसकी अच्छी कीमत भी मिलती है.

सुअर पालन के फायदे

सुअर पालन के कई फायदे हैं, जिनकी वजह से ये बिजनेस एक आकर्षक विकल्प बन जाता है:

  • कम लागत और ज्यादा मुनाफा: जैसा कि हमने बताया, सुअर पालन में कम खर्च में ज्यादा कमाई की जा सकती है.
  • ज्यादा मांस: दूसरे जानवरों के मुकाबले सुअर से ज्यादा मांस मिलता है. इसकी मांग देश और विदेश में दोनों जगह ज्यादा है.
  • कम खाने का खर्च: सुअर वो चीजें खा लेते हैं जिन्हें हम फेंक देते हैं, जैसे कि सब्जियों और फलों के छिलके. इस वजह से उनके खाने पर अलग से ज्यादा खर्च नहीं करना पड़ता.
  • कम जगह की जरूरत: सुअर पालन के लिए ज्यादा जगह की जरूरत नहीं होती है. उनके रहने के लिए कम जगह में ही अच्छा इंतजाम किया जा सकता है.
  • तेज गति से बढ़ने वाले बच्चे: एक मादा सुअर साल में तीन बार 10 से 12 बच्चों को जन्म दे सकती है. हर बच्चा 8-9 महीने में बड़ा हो जाता है. इस तरह से हर साल इस धंधे से अच्छी आमदनी हो सकती है.
  • पोषण से भरपूर मांस: सुअर का मांस प्रोटीन से भरपूर और पौष्टिक माना जाता है. बाजार में इसकी मांग ज्यादा होने के कारण इसकी बिक्री से अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है.

सुअर पालन का बिजनेस कैसे शुरू करें?

सुअर पालन का बिजनेस शुरू करने से पहले आपको इससे जुड़ी कुछ बातों की जानकारी होनी चाहिए. इसमें ये शामिल हैं:

  • लागत: इस बिजनेस को शुरू करने में कितना खर्च आएगा.
  • जगह का चुनाव: सुअरों को रखने के लिए सही जगह का चुनाव.
  • सुअरों की नस्ल का ज्ञान: सुअरों की कौन सी नस्ल आपके लिए फायदेमंद होगी.
  • बाजार की मांग: सुअर से मिलने वाले उत्पादों की मार्केट डिमांड.
  • बीमारियों से बचाव: सुअरों में होने वाली बीमारियों और उनके बचाव के बारे में जानकारी.

इन सभी बातों को जानने के बाद अगर आप सुअर पालन का बिजनेस शुरू करते हैं तो अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं.

यह भी पढ़िए-इस दिन ताबड़तोड़ एंट्री करेंगा Tecno का कर्रा स्मार्टफोन मिलेंगी दमदार बैटरी और 108 MP कैमरा

सुअर पालन पर मिलने वाली सब्सिडी

हिमाचल प्रदेश में राष्ट्रीय पशुधन मिशन के तहत कई योजनाएं चलाई जा रही हैं. इनमें मुर्गी पालन, भेड़ पालन, बकरी पालन और सुअर पालन जैसी स्कीमें शामिल हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *