किसानो को मोटा मुनाफा करायेगी जीरे की खेती, कम समय में बना देगा मालामाल, देखे पूरी जानकारी

By talksdewas@gmail.com

Published on:

Follow Us
किसानो को मोटा मुनाफा करायेगी जीरे की खेती, कम समय में बना देगा मालामाल, देखे पूरी जानकारी

किसानो को मोटा मुनाफा करायेगी जीरे की खेती, कम समय में बना देगा मालामाल, देखे पूरी जानकारी। आज के समय में किसान पारम्परिक खेती के आलावा व्यवसायिक खेती की और अपना रुख कर रहे है। इसका प्रमुख कारन है यह खेती करने से कम समय में ही अधिक मुनाफा काम सकते है। अगर आप भी कम समय में खेती कर अधिक मुनाफा कमान ाचते है तो जीरे की खेती आपके लिए बेहतर विकल्प साबित हो सकता है। यह सब्जी बनानी हो या दाल या अन्य कोई डिश सभी में जीरे का इस्तेमाल करने से ही बनाई जाती है। आमतौर पर देखा जाये तो इसका पौधा दिखने में सौंफ की तरह दिखाई देता है। इसकी उन्नत तरीके से खेती की जाए तो इस फसल से बहुत ज्यादा पैसा कमाया जा सकता है। आइए जानते है इसकी खेती के बारे में विस्तार से।

यह भी पढ़े- Honda को धोबी पछाड़ देंगी Hero की किलर लुक बाइक, कम कीमत में पॉवरफुल इंजन और ब्रांडेड फीचर्स

भारत में जीरे का उत्पादन

भारत में देश का 80 प्रतिशत से अधिक जीरा गुजरात व राजस्थान राज्य में इसकी कजहेति कर के उगाया जाता है। राजस्थान में देश के कुल उत्पादन का लगभग 28 प्रतिशत जीरे का उत्पादन किया जा रहा है। तथा राज्य के पश्चिमी क्षेत्र में कुल राज्य का 80 प्रतिशत जीरे की पैदावार की जा रही है। लेकिन इसकी औसत उपज गुजरात राज्य में थोड़ी कम की जा रही है।

जीरे में पाएं जाते है विटामिन

आपकी जानकारी के लिए बता दे की जीरा खाना शरीर के लिए लाभकारी होता है इसमें कई सारे विटामिन पाए जाते है। यह एंटी-ऑक्सिडेंट होता है। और साथ ही यह सूजन को करने और मांसपेशियों को अच्छा बनाने में फायदेमंद होता है। इसमें फाइबर भी अधिक मात्रा में पाया जाता है। और यह आयरन, कॉपर, कैल्शियम, पोटैशियम, मैगनीज, जिंक व मैगनीशियम जैसे मिनरल्स सभी गुणों से भरपूर होता है। इसमें विटामिन ई, ए, सी और बी-कॉम्प्लैक्स जैसे विटामिन भी काफी मात्रा में मौजूद होता है।

जीरे की खेती में रखे इन बातो का ध्यान

  • आपकी जानकारी के लिए बता दे की इसकी खेती करने के लिए कुछ बातो का ध्यान रखने की जरूरत होती है। बता दे की इसकी खेती करने का सबसे सही समय नवंबर माह क होता है। इस हिसाब से जीरे की बुवाई 1 से लेकर 25 नवंबर के बिच कर देनी चाहिए।
  • इसकी बुवाई कल्टीवेटर से 30 सेमी. के अंतराल में पंक्तियां बनाकर करना ज्यादा लाभदायक होता है। क्योंकि ऐसा करने से जीरे की फसल में सिंचाई करने व खरपतवार निकलने की समस्या नहीं होती है ।
  • जीरे की खेती के लिए ठंडी जलवायु बहुत अच्छी होती है। बीज पकने के बाद गर्म एवं शुष्क मौसम जीरे की अच्छी पैदावार के लिए आवश्यक होता है।

यह भी पढ़े- हवा में फुर्र फुर्र करके चटक मटक फोटो खीचेंगा Vivo का धांसू स्मार्टफोन, 200MP कैमरे से पापा की परियो को करेगा आकर्षित

जीरे की खेती से होगा मोटा मुनाफा

अगर हम जीरे की खेती में लगने वाले लागत के बारे में बात की जाये तो जीरे का लगभग उत्पादन 8-9 क्विंटल बीज प्रति हेक्टयर उत्पादन प्राप्त किया जा सकता है। जीरे की खेती में लगभग 30 से 35 हजार रुपए प्रति हेक्टयर का खर्चा आ जाता है। जीरे के दाने का 100 रुपए प्रति किलो भाव रहना पर 40 से 45 हजार रुपए प्रति हेक्टयर का मुनाफा उठा सकते है। इस खेती कर तगड़ा मुनाफा कमा सकते है।

Leave a Comment